आँखों की रोशनी बढ़ाने के उपाय  

Home > Punjab > Abohar > आँखों की रोशनी बढ़ाने के उपाय

आँखों की रोशनी बढ़ाने के उपाय

बहुत से लोग आँखों की रोशनी eye sight की समस्या को लेकर बहुत परेशान रहते हैं और कुछ ऐसा उपाय पूछते हैं जो सच में कारगर हो । प्रकाशित आयुर्वेद के माध्यम से इस पोस्ट में जानिये हजारों लोगों पर परीक्षित वह प्रयोग जिसको वैध लोग अपनाकर यश कमाते आये हैं ।
सामग्री :- आँखों की रोशनी eye sight बढ़ाने का यह प्रयोग बहुत ही सरल और स्वादिष्ट है । इस प्रयोग नुस्खे को तैयार करने के लिये निम्नलिखित तीन चीजें एकत्रित कीजिये।

  • काली मिर्च 50 ग्राम
  • साबुत मिश्री 200 ग्राम
  • गौघृत 250 ग्राम (गौघृत अर्थात गाय का घी)

आँखों की रोशनी eye sight बढ़ाने का यह नुस्खा तैयार करते समय विशेषतौर पर ध्यान रखें कि गौघृत ही लेना है और वह भी देशी गाय के दूध से बना हुया होना चाहिये ।

निर्माण विधी :- अब सबसे पहले काली मिर्च और मिश्री को अलग अलग कूटकर बारीक चूर्ण तैयार कर के रख लें । यदि दोनों को एक साथ कूटोगे तो काली मिर्च का बारीक चूर्ण नही हो पाता है अतः अलग अलग कूटकर जब बिल्कुल बारीक चूर्ण प्राप्त हो जाये तब दोनों के चूर्ण को एक साथ अच्छे से मिला लें ।
उसके बाद गौघृत को एक बर्तन में इतना गर्म करें कि वह सम्पूर्ण पिघल जाये, ध्यान रखें कि बहुत तएज गर्म नही करना है बस जब सम्पूर्ण पिघल जाये तो बरतन को अग्नि पर से उतार कर उसमे उपरोक्त तैयार काली मिर्च और मिश्री के चूर्ण का मिश्रण मिलाकर अच्छे से चलाकर एक साफ काँच के पात्र में भरकर रख दें । आँखों की रोशनी eye sight बढ़ानें वाला यह सुपरीक्षित नुस्खा तैयार है ।
सेवन विधी :- 12 वर्ष से छोटे बालकों को रोज आधा आधा चम्मच सुबह और रात के समय गौ दुग्ध के साथ दीजिये । 12 वर्ष से बड़े जनों को एक एक चम्मच की मात्रा में रोज सुबह और रात के समय गौदुग्ध के साथ ही दिया जाना चाहिये ।
प्रयोग काल :- इस योग (नुस्खे) का सेवन काल सामन्यतः 8-12 महीने तक होता है । इसके साथ यदि आयुर्वेदिक शास्त्रोक्त औषधि ” सप्तामृत लौह ” की एक एक गोली रोज सुबह शाम सेवन की जाये तो बहुत ही उत्तम लाभ देती है ।

[Total: 1    Average: 5/5]
Share this Business:

( When You Call Advertiser Kindly Tell Them You Find This Advertisement On www.adbook.in )

Send Message





114 Views

Get Directions to this business

Send Message